मेवला भट्टी गांव में पांच सौ से अधिक "बुखार और वायरल से बीमार"

गाजियाबाद। बाढ़ का पानी कम होने के बाद लोनी का मेवला भट्टी संक्रामक रोगों के लिए हॉट स्पॉट बन गया है। 4500 आबादी वाले गांव में लगभग पांच सौ लोग बुखार से ग्रसित हैं। इनमें से कई लोग डेंगू से बीमार हैं। अधिकांश मरीजों का इलाज लोनी में ही आसपास के निजी अस्पतालों और संयुक्त अस्पताल में चल रहा है।

Aug 9, 2023 - 09:21
Aug 9, 2023 - 09:21
 0  9
मेवला भट्टी गांव में पांच सौ से अधिक "बुखार और वायरल से बीमार"

गाजियाबाद। बाढ़ का पानी कम होने के बाद लोनी का मेवला भट्टी संक्रामक रोगों के लिए हॉट स्पॉट बन गया है। 4500 आबादी वाले गांव में लगभग पांच सौ लोग बुखार से ग्रसित हैं। इनमें से कई लोग डेंगू से बीमार हैं। अधिकांश मरीजों का इलाज लोनी में ही आसपास के निजी अस्पतालों और संयुक्त अस्पताल में चल रहा है।

सात डेंगू मरीजों को संयुक्त अस्पताल में भर्ती किया गया है। इन्हें अभी तक विभाग ने आंकड़ों दर्ज नहीं किया है। बुखार से ग्रसित 22 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को तीसरे दिन भी शिविर लगाकर मरीजों की जांच की। जिला सर्विलांस अधिकारी (डीएसओ) डॉ. आरके गुप्ता का कहना है कि मेवला भट्टी गांव में वायरल फैला था। डेंगू पर प्रभावी नियंत्रण किया जा रहा है। डीएसओ ने बताया कि रविवार को पहले दिन गांव में बुखार के 65 मरीज सामने आए। दूसरे दिन 57 मरीजों की जांच की गई। मंगलवार को 16 मरीजों की डेंगू और मलेरिया की जांच की गई। तीन दिनों में 125 से ज्यादा मरीजों की रैपिड जांच में सात मरीजों में डेंगू होने की पुष्टि की है।

मरीजों की संख्या इससे अधिक है। सभी मरीजों को संजयनगर स्थित संयुक्त अस्पताल के डेंगू वार्ड में मच्छरदानी लगाकर रखा गया है। बुखार के बाकी मरीजों को लोनी के संयुक्त अस्पताल भेजा गया। जहां से उपचार के 15 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। स्थानीय लोगों के अनुसार गांव में हर घर में बुखार का मरीज है। सभी को तेज बुखार है। कई लोगों को गंभीर हालत में सीएचसी और संयुक्त अस्पताल ले जाने की जरूरत पड़ी है।

Disclaimer :  fastnewsplus ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर amar ujala की फीड से प्रकाशित की गयी है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow